लोस में उठी कोटा-पटना एक्सप्रेस को सहरसा से चलाने की मांग

सहरसा।सोमवारकोचलरहेलोकसभामेंसंसदसत्रकेदौरानसांसददिनेशचंद्रयादवनेसहरसासेकोटा-पटनाएक्सप्रेसकोचलानेकीमांगउठायीहै।शून्यकालकेदौरानउठाएगएइसमुददेकेारेखांकितकरतेहुएसांसदनेरेलमंत्रीसेइसकेपरिचालनकरनेकाअनुरोधकियाहै।सांसदनेबतायाकिकोटा-पटनाएक्सप्रेसट्रेनप्रतिदिन13239अपएवं13240डाउनकापरिचालनपटनाएवंकोटासेहोताहै।इसट्रेनसेउत्तरबिहारसेबड़ीसंख्यामेंलोगखासकरबनारसऔरकोटामेंपढ़नेवालेछात्रोंएवंअभिभावकऔरतीर्थयात्रीसफरकरतेहै।कोटासेयहट्रेन13239अपशाम06.10बजेखुलतीहैजोदूसरेदिनरात09.20बजेपटनापहुंचतीहै।पटनापहुंचनेकेबादयहट्रेनलगभग14घंटेतकपटनायार्डमेंखड़ीरहतीहैऔरफिरदूसरेदिनयहीट्रेनपटनासेकोटाकेलिएखुलतीहै।सांसदनेजानकारीदेतेहुएबतायाकिपटनासेसहरसाकीदूरीकरीबपांचघंटेकीहै।ऐसेमेंइसट्रेनकापरिचालनयदिसहरसास्टेशनसेकरदियाजाएतोनसिर्फरेलकेराजस्वमेंवृद्धिहोगीबल्किहजारोंयात्रियोंकेसमयऔरपैसेकीबचतहोगी।इसट्रेनकाविस्तारसहरसासेकरनेकेबादभीपटना-कोटासमयसारिणीभीपूर्ववतरहजाएगी।सहरसामेंट्रेनोंकेरखरखावएवंसफाईकेलिएपहलेसेहीवॉशिगपिटकीसुविधाउपलब्धहैऔरऑटोमैटिकवॉशिगकोचप्लांटभीलगीहुईहै।सहरसाशहरउत्तरबिहारकाप्रमुखशहरहै।यहप्रमंडलमुख्यालयभीहै।यहांविद्युतरेलकारखानाअवस्थितहोनेकेसाथसाथयहक्षेत्रनेपालकीसीमासेसटाहुआहै।