खरीद, बिक्री और स्टॉक कम दर्ज करने से करोड़ों का घाटा

वरिष्ठसंवाददातानईदिल्ली:खरीद,बिक्रीऔरस्टॉककमदर्जकरनेकेकारणसेल्सटैक्सविभागको9करोड़रुपयेकानुकसानहुआहै।इसकेअलावाटैक्सकीदरकमलगानेसे1.92करोड़रुपयेकानुकसानहुआ।इसीतरहअवैधदस्तावेजपरटैक्समेंछूटदिएजानेसे4.46करोड़रुपयेकानुकसानहुआहै।इसमें1.54करोड़रुपयेकाब्याजशामिलहै।सीएजीरिपोर्टमेंबतायागयाहैकि29वॉर्डोंकीनमूनाजांचसेपताचलाकि2002-03में44मामलोंमेंव्यापारियोंनेमालतोखरीदा310.07करोड़का,लेकिनदर्शायासिर्फ288.06करोड़का।इसीतरह2004-05केबीच23.89करोड़रुपयेकीबिक्रीछुपाई।इससे1.52करोड़रुपयेकेटैक्सकीचोरीकीगई।एकव्यापारीने7.20करोड़कामालखरीदादर्शाया6.73करोड़रुपयेका।इसीतरहएकअन्यव्यापारीने6.99करोड़कासामानखरीदाऔरदिखाया6.35करोड़रुपयेका।अधिकारियोंकीकोताहीकोदर्शातेहुएरिपोर्टमेंबतायागयाहैकि2002-04काअंतिमनिर्धारणकरतेहुए64.24करोड़कीवास्तविकबिक्रीकेस्थानपरव्यापारीद्वारादिखाईगई55.51करोड़कोहीसहीमानलियागयाजिससे8.73करोड़रुपयेकीबिक्रीकाकमनिर्धारणहुआ।इससेविभागको65.02लाखरुपयेटैक्सकममिला।यहभीबतायागयाहैकिव्यापारीकाटैक्स1.19करोड़रुपयेपरनिर्धारितकियागयाजबकिवास्तविकस्टॉक2.77करोड़रुपयेकाथा।हेराफेरीकेभीअनेकमामलेउजागरहुएहैं।7.81करोड़रुपयेकास्टॉकथा,लेकिन2.17करोड़रुपयेकादिखायागया।इसीतरहएकअन्यउदाहरणमें7.55करोड़केस्टॉककीजगह6.75करोड़रुपयेकास्टॉकदर्शायागया।इससेविभागको14.98लाखरुपयेकाराजस्वनहींमिलपाया।