गंगा स्नान..पूजन-तर्पण और आस्था का संगम

मुजफ्फरनगर,जेएनएन।पौराणिकतीर्थनगरीशुकतीर्थमेंमंगलवारकोकार्तिकपूर्णिमाकेपावनपर्वपरदूरदराजक्षेत्रोंसेआएलाखोंश्रद्धालुओंनेहरहरगंगेजय,गंगेमैयाकेनारोंकीजयघोषकेसाथपतितपावनीगंगामेंडुबकीलगाईतथाविभिन्नमंदिरोंमेंपूजाअर्चनाकरश्रद्धाभक्तिभावसेप्रसादचढ़ाया।नगरीमेंजगह-जगहभंडारोंकाभीआयोजनकियागया,जिनमेंश्रद्धालुओंकोखिचड़ीहलवापुरीकाप्रसादवितरितकियागया।

नगरीकेगंगाघाटपरमंगलवारकीतड़केहीकार्तिकपूर्णिमाकामुख्यस्नानप्रारंभहोगयाथा।श्रद्धालुओंनेहरहरगंगेजय,गंगेमैयाकेनारोंकीजयघोषकेसाथपतितपावनीगंगाजीमेंस्नानकिया।इसकेबादशुकदेवमंदिर,हनुमद्धाम,गणेशधाम,शिवधाम,दुर्गाधाम,मांपीतांबराधाम,श्रीगंगामंदिरआदिमंदिरोंमेंपूजाअर्चनाकरभक्तिभावसेप्रसादचढ़ाया।श्रद्धालुओंनेप्राचीनअक्षयवटवृक्षकीपरिक्रमाकरधागाबांधकरअपनेपरिवारकीखुशहालीकेलिएमन्नतेंमांगी।शिक्षाऋषिब्रह्मालीनस्वामीकल्याणदेवमहाराजकीसमाधिवकारगिलशहीदस्मारकपरभीश्रद्धालुओंनेपुष्पचढ़ाकरउनकोनमनकिया।नगरीकेअनेकआश्रमोंमेंभंडारेकाभीआयोजनहुआ।जिनमेंसाधु-संतोंवश्रद्धालुओंकोकालीदालकीखिचड़ीकाप्रसादवितरितकियागया।इसकेअलावासतसाहेबआश्रम,महाशक्तिसिद्धपीठ,श्रीमहेश्वरआश्रम,नवग्रहशनिधाम,प्राचीनदंडीआश्रम,सतसाहेबआश्रम,मानवनिर्माणयोगआश्रम,गुरूकुलआश्रम,रविदासआश्रम,विश्वकर्मामंदिर,सैनीमंदिरआदिमेंरातभरसत्संगप्रवचनभजनकीर्तनकार्यक्रमोंकाआयोजनहुआ।मेलेमेंबनेखोया-पायाशिविरपरस्वयंसेवकोंनेदर्जनोंबच्चोंवमहिलाओंकोपहुंचायाजिन्हेंबादमेंपरिजनपहचानकरलेगए।एसपीदेहातनेपालसिंह,अपरमुख्यअधिकारीडा.नूतनशर्मा,अभियंताकमलकिशोरशर्मा,सीओराममोहनशर्मा,मेलाकोतवालयशपालसिंह,प्रभारीनिरीक्षकएमएसगिल,पुलिसचौकीप्रभारीजगपालसिंहआदिमौजूदरहे।1747मरीजोंकोदीदवाई

मेलेमेंस्वास्थ्यविभागद्वाराकारगिलशहीदस्मारकवमेलाग्राउंडपरचिकित्साशिविरकाआयोजनकियागया।जिनडा.आरडीगौड़,डा.इंद्रपालसिंहवडा.अनिलकौशिकद्वाराबुखार,खांसीजुकामनजला,जुकामआदिके1747पीड़ितमरीजोंकापरीक्षणकरनिशुल्कदवाईदी।विभिन्नविभागोंनेलगाईप्रदर्शनी

मेलाग्राउंडपरस्वास्थ्यविभाग,पशुपालविभाग,कृषिविभाग,गन्नाविभागआदिविभागोंद्वाराप्रदर्शनीलगाईगईजिनपरमेलेमेंआनेवालेश्रद्धालुओंकोसाहित्यवितरितकरविभागीयजानकारीदीगई।