भारत की ओर पानी रोकने की कोशिश आक्रामक कार्रवाई मानी जाएगी : पाकिस्तान

इस्लामाबाद,17अक्टूबर(भाषा)पाकिस्ताननेगुरुवारकोकहाकितीनपश्चिमीनदियोंपरउसका‘विशेषाधिकार’हैऔरइननदियोंकापानीरोकनेकीभारतकीकोईभीकोशिश‘आक्रामककार्रवाई’मानीजाएगी।विदेशकार्यालयकेप्रवक्तामोहम्मदफैसलनेयहटिप्पणीसाप्ताहिकप्रेसवार्ताकेदौरानप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकीओरसेपाकिस्तानकापानीरोकनेसंबंधीबयानपरपूछेसवालपरकी।पिछलेहफ्तेहरियाणामेंएकचुनावीरैलीकोसंबोधितकरतेहुएमोदीनेकथिततौरपरकहाथाकिउनकीसरकारनदियोसेपाकिस्तानजारहेपानीकोरोकदेगी।फैसलनेकहाकिसिंधुजलसंधिकेतहतपाकिस्तानकातीनपश्चिमीनदियोंकेपानीपरविशेषाधिकारहै।नदियोंकानामलिएबिनाउन्होंनेकहा,‘‘भारतकीओरसेइननदियोंकापानीरोकनेकीकोईभीकार्रवाईआक्रामकमानीजाएगीऔरपाकिस्तानकेपासइसकाजवाबदेनेकाअधिकारहै।’’उल्लेखनीयहैकिपांचअगस्तकोभारतसरकारद्वाराजम्मू-कश्मीरकोविशेषदर्जादेनेवालेसंविधानकेअनुच्छेद-370कोखारिजकरनेकेबादसेदोनोंदेशोंकेबीचतनावबढ़गया।पाकिस्ताननेभारतकेउच्चायुक्तकोवापसभेजदियाथाऔरविश्वमंचोंसेमामलेकाअंतरराष्ट्रीयकरणकरनेकाप्रयासकररहाहै।वहींभारतनेस्पष्टकरदियाहैकिअनुच्छेद-370कोनिष्क्रियकरनाउसकाआंतरिकमामलाहैऔरपाकिस्तानकोइससच्चाईकोस्वीकारकरनाचाहिए।भारतअपनेरुखपरकायमहैकिआतंकवादऔरबातचीतसाथ-साथनहींचलसकते।