बेटों के साथ बेटियों को भी शिक्षा दिलाएं : जशोदा बेन

मुजफ्फरनगर,जेएनएन।गांवबिहारगढ़स्थित'अपनाघर'मेंआयोजितकार्यक्रममेंबतौरमुख्यअतिथिपधारींप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीकीधर्मपत्नीजशोदाबेननेबेटियोंकीशिक्षापरजोरदिया।बेटियोंकोपढ़ा-लिखाकरअफसर,डॉक्टरऔरइंजीनियरबनाएं।

तीर्थनगरीपहुंचीजशोदाबेननेलोगोंकेसाथबातचीतकेदौरानआश्रमकेकार्योंकीसराहनाकी।कहाकिआश्रममेंसेवाभावदेखकरअच्छामहसूसहोरहाहै।इसदौरानजशोदाबेनकेभाईअशोकभाईमोदीनेकहाकिअपनाघरमेंजरुरतमंदोंकीसेवादेखकरवहगदगदहोगएहैं।राजस्थान'अपनाघर'सेआईंमुख्यसंचालिकामाधुरीभारद्वाजनेकहाकिदेशकेविभिन्नप्रांतोंमेंअपनाघरखोलेगएहैं,जिनमेंहजारोंलोगोंकेरहनेखाने,दवाईआदिकीव्यवस्थानिशुल्ककीगईहै।कार्यक्रममेंराजेश्वरबंसल,पूर्वविधायकसोमांशप्रकाश,विनोदगोयल,गजराजगंगवार,प्रदीपसिक्का,अमितगर्ग,मुकेशमित्तल,अरुणतायलआदिमौजूदरहे।इसकेअलावाबिहारीगढ़मेंहीआचार्यश्रीविद्याभूषणसन्मतिसागरकीप्रेरणासेसन्मतिचेरिटेबलट्रस्टद्वाराबच्चोंकीशिक्षाकेलिएस्थापितसन्मतिशिक्षासदनकाशिलान्यासकरतेहुएजशोदाबेननेकहाकिमनुष्यकेलिएशिक्षासबसेज्यादाजरूरीहै,इसलिएहमअपनेबेटोंकेसाथसाथबेटियोंकोभीशिक्षादिलाएं।बेटियांहरक्षेत्रमेंआगेबढ़ेंगीऔरअपनेमाता-पिताकानामरोशनकरेंगी।यात्रासंयोजकसत्यप्रकाशरेशू,संचालकप्रकाशवीर,प्रधानबुद्धरामचौहान,जिलापंचायतसदस्यसुशीलादेवी,अमरीशगोयलआदिमौजूदरहे।

संतोंकेदर्शनकर

आनंदितहुईंजशोदा

मोरना:श्रीशुकदेवआश्रममेंचलरहीश्रीमछ्वागवतकथाकेदौरानपहुंचीजशोदाबेननेकथाव्यासगोविदरामशास्त्रीजीकोपटकापहनाया।जशोदाबेननेकहाकिसंतोंकासानिध्यभाग्यसेहीमिलताहै।हरिद्वारएवंशुकतीर्थमेंसंतमहापुरुषोंकेदर्शनकरउन्हेंआनंदकीप्राप्तिहुईहै।

सेल्फी,फोटोलेने

कोरहीमारामारी

नगरीमेंपहुंचतेहीजशोदाबेनकास्वागतकरउनकेसाथफोटोखिंचवानेऔरसेल्फीलेनेवालोंकीमारामारीरही।जशोदाबेनकादलजिधरभीजाताउनकेपीछे-पीछेमहिलापुरुषऔरबच्चोंकीभीड़लगीजाती।

सुरक्षाकेमद्देनजर

पुलिसरहीअलर्ट

नगरीमेंजशोदाबेनकीधार्मिकयात्राकेदौरानसुरक्षाव्यवस्थाकेमद्देनजरपुलिस-प्रशासनअलर्टरहा।डॉगस्कवायडकोभीगंगाघाटऔरमंदिरोंमेंलेजायागया।सीओभोपा,सीओफुगानाऔरखुफियाविभागकेअधिकारीभीतीर्थनगरीमेंसक्रियरहे।

पंचमुखीमहादेव

मंदिरमेंमाथाटेका

मीरापुर:जशोदाबेननेअपनेपरिवारकेसदस्योंकेसाथसंभलहेड़ास्थितविख्यातपंचमुखीमहादेवमन्दिरमेंभगवानशिवकीआराधनाकी।जशोदाबेनपरिवारकेसदस्योंकेसाथकरीबचारबजेसम्भलहेड़ास्थितविख्यातसिद्धपीठपंचमुखीमहादेवमंदिरपहुंचीं।यहांपरपं.अंकितशुक्लानेउन्हेंमंत्रोचारकेसाथभगवानशिवकाजलाभिषेककराया।दर्जनोंमहिलाएंवबच्चेभीपहुंचगए।उन्होंनेमन्दिरकेरास्तेकेलिएभूमिदानदेनेवालेकिसानसीतारामसैनीकोसम्मानितकिया।इसदौरानमंदिरसमितिअध्यक्षनरेन्द्रगर्ग,कृष्णपालसैनी,विपिनकुमार,गुड्डूचौधरी,स.कर्मजीतसिंह,पुष्पेन्द्रशर्मा,मैनपाल,गुलजारीधीमान,जोनीकश्यपआदिमौजूदरहे।